तूफान की सूचना – सच या अफवाह? ऐसे रहें तूफान में सेफ

0

मौसम विभाग के अनुसार 5 मई से लेकर 8 मई तक तक कभी भी तूफ़ान आने की सम्भावना जताई गई है, चूंकि सोशल मीडिया पर तेज तूफान और भारी बरसात के बारे में बहुत सी अफवाहें और फर्जी Video & Images वायरल हो रहीं हैं, इसलिए सभी पाठकों से अनुरोध है कि जनहित में इस जानकारी को अपने मित्रों व परिवार के साथ share करें ताकि कोई अफवाहों से बचते हुए इस संभावित प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए सुरक्षा-संबंधी इंतजाम किए जा सकें। किसी भी अवफ़ाह पर गौर करने की बजाय Mausam Vibhag Ki Official Website पर जाकर सही जानकारी लें।

मौसम विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट है – www.imd.gov.in

अगले 48 घंटो में भीषण तूफ़ान आने की आशंका बनी हुई है। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे उपाय जिनसे आप तूफ़ान से बच सकते है और तूफ़ान के बाद भी ज्यादा प्रभावित नहीं हो तो भी जनहित में यह जानकारी जरूर शेयर करें, ताकि प्रभावित इलाकों के लोग समय रहते सतर्क हो सकें।

अति-महत्वपूर्ण सूचना: भयंकर तूफान की आशंका के मद्दनेजर इन जरूरी बातों का रखें ध्यान

संभावित प्राकृतिक आपदा की स्थिति में इन बातों का रखें ध्यान और जनहित में इस महत्वपूर्ण सुरक्षा उपायों को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें।

Storm safety tips hindi, tufan se bachne ke tarike, tufan se kaise bache, tufan kb ayega

  • बच्चों, औरतों और बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें..
  • 7 व 8 मई को सभी प्रदेशवासी पेड़ों से दूरी बनाए रखें। न तो स्वयं पेड़ों के नीचे सोएं और न ही अपने पालतू पशुओं को पेड़ों के आस-पास छोड़ें..
  • रात को सोने से पूर्व चुल्हों व अन्य किसी नजदीकी स्थान पर सुलगती आग को बुझाकर सोएं।
  • रात को जल्दी अपने घरों को लौट आएं और सायंकाल को सफर तय करने से बचें। केवल अति आवश्यक होने पर ही सफर करें।
  • रात को सोते समय अपने पास टॉर्च आदि की व्यवस्था रखें तथा इलैक्ट्रोनिक उपकरणों को प्लग से बाहर निकालकर सोएं।
  • किसानों से अपील है कि वे अपनी तूड़ी व अनाज को संभालकर रखें।
  • मकान की छतों पर भारी भरकम एवं तेज हवाओं में उडकऱ नुकसान पहुंचाने वाले सामान को सही प्रकार से रखें। छतों की मुंडेरों और दीवारों पर रखे हुए गमलों को भी नीचे सुरक्षित रखें।
  • टीन एवं हल्के पदार्थों वाली छतों का विशेष ध्यान रखें..
  • बिजली के उपकरणों तथा खम्बों से दूर रहें। तेज तूफान आदि के दौरान वृक्षों एवं खम्बों के गिरने की स्थिति में नजदीकी उपतहसील या तहसील मुख्यालय अथवा लघु सचिवालय में सूचित करें।
  • सोशल मीडिया पर फैलाई जाने वाली व्यर्थ की अफवाहों पर ध्यान न दें। सक्षम लोग मौसम विभाग की वैबसाईट www.imd.gov.in पर सही जानकारी प्राप्त का सकते हैं एवं आस-पास के लोगों को भी इसके बारे में जागरूक कर सकते हैं।
  • आंधी-तूफान की गति व अन्य मार्गों की जानकारी टीवी, मोबाइल व अन्य संचार माध्यमों से करते रहें। अपने परिवार व समुदाय के लोगों को संभावित खतरे के प्रति सावधान करा दें।
  • आपातकालीन सामग्री, आवश्यक खाद्य पदार्थ, मेडिकल किट, टॉर्च, बैटरी आदि तैयार रखें, क्योंकि इस समय बिजली गुल होने की अधिक सम्भावना रहती है।
  • जब मौसम साफ न हो या आधिकारिक सूचना न मिले, तब तक पूरी तरह सावधान रहे, घर लौटने के लिए बताए गए मार्ग का ही प्रयोग करें।
  • धातु के सामान तथा लोहे की तारबंदी, ट्रैक्टर, लोहे के पाइप, रेलिंग आदि को नहीं छुएं क्योंकि इनमें करंट हो सकता है।

इन राज्यों में आ सकता है तूफान

Haryana toofan ka time, tufan kitne bje, tufan afwah ya sach , storm news fake or real

  • असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ स्थानों पर सोमवार को भारी बारिश हो सकती है
  • मौसम विभाग द्वारा जारी सूचना के अनुसार जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिमी उत्तरप्रदेश के कुछ स्थानों पर भी गरज-बरज के साथ बारिश हो सकती है और तेज हवाएं चल सकती हैं।
  • पश्चिमी राजस्थान के कुछ स्थानों पर धूल भरी आंधी चल सकती है और गरज के साथ बारिश हो सकती हैं।

संभावित तूफान से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण सूचनाएं

  •  हरियाणा सरकार ने 7 और 8 मई को भयंकर तूफान और बारिश की आशंकाओं के बीच  प्रदेश के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों की छुट्टियां घोषित कर दी हैं।
  • इन दिनों अमूमन शाम के समय अचानक मौसम बदल जाता है। कभी तेज हवा चलती है तो कभी अंधड़ आने लगता है।
  • पिछले सप्ताह धूल भरी आंधी आने के कारण पांच राज्यों में 124 लोगों की मौत हो गयी थी और 300 से अधिक लोग घायल हो गये थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.